Windows 11 क्‍या है और कैसे करें Install

विंडोज एक ग्राफिकल यूजर इंटरफेस ऑपरेटिंग सिस्‍टम है, इसमें हर चीज ग्राफिकल में होती है, इसे माइक्रोसॉफ्ट कंपनी ने 1985 में बनाया था, उस समय ये सिंगल यूजर ऑपरेटिंग सिस्‍टम हुआ करता था पर विंडोज 98 के आने के बाद ये मल्‍टीयूजर ऑपरेटिंग सिस्‍टम बना गया था, इसे शुरूआत में डॉस के जरिए Download किया जाता था

आज के समय में विंडोज सबसे ज्‍यादा इस्‍तेमाल किया जाने वाला ऑपरेटिंग सिस्‍टम है क्‍योंकि इसपर काम करना और इसे समझना बहुत आसान होता है, आज विंडोज के बहुत से वर्जन मार्केट में उपलब्‍ध है जो सबसे पहला वर्जन मार्केट में आया था उसका नाम विंडोज 1.0 था, इसके बाद बहुत से वर्जन मार्केट में आ चुके है, आज ह‍म विंडोज के नए वर्जन के बारे में बात करेंगे जो माइक्रोसॉफ्ट ने कुछ ही समय पहले लॉन्‍च किया है जिसका नाम विंडोज 11 है

Windows 11 क्‍या होता है

विंडोज 11 को रि‍लीज करने से पहले ही लीक कर दिया गया था,विंडोज 11 24 जून 2021 को आने वाला था और उसे उसके रिलीज के एक हफ्ते पहले ही लीक कर दिया गया था तो आज मैं आप लोगों को विंडोज 11 के फीचर्स के बारे में बताउंगा, और बताउंगा कि आप इसे अपने सिस्‍टम पर कैसे Install कर सकते हैं 

मान लीजिए कि आपने विंडोज 11 को अपने सिस्‍टम पर Installकर लिया है, अगर आप देखना चाहते हैं कि विंडोज आपके सिस्‍टम में Install हुआ है या नहीं तो आपको सिस्‍टम के अबाउट में जाकर देखना होगा, विडोंज 11 के Installation के एनिमेशन और यूआई में बहुत बदलाव किए गए है, जो इसमें बदलाव किए गए है वो पहले स्‍मार्टफोन में देखने को मिलते थे, जब आप इसे विंडोज 10 से Compare करेंगे तो यह आपको अलग लगता है

जैसे ही आप विंडोज 11 को अपने Desktop में इंस्‍ट्राल कर लेते हैं तो आपका डेस्कटॉप बिल्‍कुल अलग दिखाई देता है और आपको बिल्‍कुल नए सिस्‍टम जैसी फील आती है,  जब इसके डिफोल्‍ट वॉलपेपर को देखते हैं तो ये आपको बिल्‍कुल अलग ही दिखाई देता है ये आपको एक फूल की तरह दिखाई देता है

विंडोज 11 में विंडोज के Logo को भी बदल दिया गया है, इसका आकार वर्ग के आकार का कर दिया गया है और इसके Edges को गोल कर दिया गया है, जैसे ही आप इसके मैन्‍यु को स्‍टार्ट करेंगे तो आपको पता चलेगा कि इसे फिर से बदल दिया गया है, ये स्‍टार्ट मैन्‍यु बहुत से लोगों को पंसद भी आ सकता है और हो सकता है कि बहुत से लोगों को पंसद न भी, अगर आप इसे इस्‍तेमाल करना चाहते हैं तो आपको इसे सीखने में थोडा समय लग सकता है

आप जिन ऐप्‍स का ज्‍यादा इस्‍तेमाल करते हैं आप उन्‍हें आसानी से इसमें पिंन कर सकते हैं और स्‍क्रोल भी कर सकते हैं जिससे आप अपने मनपसंद ऐप्‍स को जल्‍दी और आसानी से ओपन कर सकते हैं, मतलब इसमें आपको Desktop में ऐप्‍स को रखने की जरूरत नहीं होती है, अगर आप अपने Desktop की स्‍क्रीन को साफ रखना चाहते हैं तो आप विंडोज के वर्जन में रख सकते हैं

इस विंडो में आपको एक नयी चीज देखने को मिलेंगी आप जैसी ही मैन्‍यु को ओपन करेंगे तो आपको वहां All ऐप दिखाई देगा उस पर क्लिक करते ही आपके सभी ऐप आपके सामने आ जाएंगे, मतलब विंडोज 11 में आपके लिए सभी चीज आसान हो गयी है, इसमें आपको शटडाउन या रिस्‍टार्ट करने का भी बटन नीचे ही दिखाई देता है, स्‍टार्ट मैन्‍यू में आपके Edges गोल होते हैं

इसमें सर्च दूसरे विंडोज के जैसा ही है, इसमें आपको टॉस्‍कव्‍यू देखने को मिलेगा मतलब आप देख सकते हैं कि आपकी कौन कौन सी एप्‍लीकेशन अभी भी खुली हुई है, जब आप इसके फाइल एक्‍सप्‍लोरर को ओपन करेंगे तो एनिमेशन में आपको बहुत सारे बदलाव देखने को मिलेंगे, फाइल एक्‍सप्‍लोरर में इसके Edges वर्ग के आकार के होते हैं, इसमें आपको आइकन बहुत ज्‍यादा स्‍टाइलिश देखने को मिलते हैं

इसमें आइकन के साइज को बदलने के शॉर्टकट दिए गए है जिनके जरिए आप उनके साइज को आसानी से बदल सकते हैं, विडोंज 11 में फोल्‍डरो के बीच में ज्‍यादा Margin रखा गया है जो देखने में काफी अच्‍छा लगता है, अगर आप फोल्‍डरो की प्रोपर्टीज मे जाओगे तो आपको Okऔर Cancel का बटन भी मिलेगा जो थोडा गोल रखा गया है

अब अगर आप इसकी सेटिंग खोलेंगे तो आपको इसमें रिवॉर्ड का भी ऑशन भी देखने को मिलता है आप इसमे रिवॉर्ड भी जीत सकते हैं इसकी वाकि की सेटिंग पिछले वर्जन के जैसी ही रखी गयी है आप इसमें Personalization में जाकर कलर, थीम, फोटो इत्‍यादि को आसानी से बदल सकते हैं ये बिल्‍कुल विंडोज 10 की तरह है

Windows 11 को सिस्‍टम पर कैसे Install किया जाता है

अगर आप विंडोज 11 को अपने सिस्‍टम पर Install करना चाहते हैं तो आप आसानी से कर सकते हैं, मैं आपको वर्चुअल बॉक्‍स की मदद से बताउंगा कि आप कैसे विंडोज 11 को अपने सिस्‍टम में Install कर सकते हैं, आप उसे देख सकते हैं अगर आपको अच्‍छी लगे तो आप उसे अपने  सिस्‍टम में रख भी सकते हैं

सबसे पहले आपको वर्चुअल बॉक्‍स को Install करना होगा, इसके लिए आपको उसकी ऑफिशयल वेबसाइट पर जाना होगा और आपको विंडोज होस्‍ट पर क्लिक करना होगा, ये थोडी देर में डाउनलोड हो जाएगा, अगर आप वर्चुअल बॉक्‍स के बारे में नहीं जानते हैं तो मैं आपको बता देता हूं, आपके पास जो भी सिस्‍टम है और उसके अंदर कोई भी विंडोज हो अगर आप उसमें  वर्चुअल बॉक्‍स को डाउनलोड करना चाहते हैं तो आप आसानी से कर सकते हैं

Virtual box क्‍या होता है

आपने कभी न कभी वर्चुअल बॉक्‍स का नाम तो सुना ही होगा, वर्चुअल बॉक्‍स एक ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर होता है जो पूरी तरह से फ्री होता है, आप इसे वर्चुअल बॉक्‍स की ऑफिशयल वेबसाइट से फ्री में डाउनलोड कर सकते हैं, इसकी मदद से आप अपने कंप्‍यूटर में एक वर्चुअल मशीन क्रीएट कर सकते हैं और इसी सॉफ्टवेयर के अंदर आप किसी भी तरह के ऑपरेटिंग सिस्‍टम को ऑपरेट भी कर सकते हैं

अब जैसे ही आपकी वर्चुअल फाइल डाउनलोड हो जाएं तो  आपसे कुछ जानकारी मांगी जाती है आपको उन को Fill करके आगे क्लिक करते जाना है और इस तरह से आपका वर्चुअल बॉक्‍स इंस्‍ट्राल हो जाएगा, इसके बाद आपको इसे लॉन्‍च कर लेना है, आपको न्‍यू पर क्लिक करना है, इसे आप कुछ भी नाम दे सकते हैं जैसे आप विंडोज 11 लिख सकते हैं और आपको आगे क्लिक करना है, अब ये आपसे मैमोरी साइज के बारे में पूछेगा कि आप कितनी मैमोरी देना चाहते हैं

विंडोज 11 कम से कम 5 जीबी की होती है तो आपको उससे ज्‍यादा ही मैमोरी देनी होती है इसलिए आप 5 जीबी से ज्‍यादा मेमोरी दें

 इसमें आपको कुछ सेटिंग करनी होती है, सेटिंग के लिए आपको जनरल पर क्लिंक करना होगा और एडवांस ऑप्‍शन पर जाना होगा और लास्‍ट ऑप्‍शन को दोनों तरफ से क्लिंक करके Ok कर देना है, इसके बाद आपको एक बार और सेटिंग में जाना है और आपको सिस्‍टम दिखाई देगा आपको उस पर क्लिक करना है और फिर आपको प्रोसेसर पर क्लिंक करना है क्‍योंकि विंडोज 11 कुछ कोर्स और ट्रेड को कंज्‍यूम करते हैं  जो प्रोसेसर के अंदर होते हैं, आप कोर्स और ट्रेंड को अपने हिसाब से दे सकते हैं

ये सब करने के बाद आपको फिर से सेटिंग में जाना होता है, इस बार आपको स्‍टोरेज के ऑप्‍शन पर जाना होगा और आपको Empty वाले ऑप्‍शन पर क्लिक करना होगा, आपको डिस्‍क वाले ऑप्‍शन पर जाना है और आपको उसमें एक फाइल दिखाई देगी आपको उस पर क्लिक करना होता है ये आपकी आईएसओ फाइल होती है अब ये सब करने के बाद आपको बस स्‍टार्ट पर क्लिक करना होता है

जैसे ही आप स्‍टार्ट पर क्लिक करेंगे तो हो सकता है ये थोडा समय लगाए आप कुछ देर Wait करें तो यह डाउनलोड हो जाएगा और वर्चुअल मशीन के अंदर स्‍टोर हो जाएगा अब जैसे ही आपका सिस्‍टम तैयार हो जाएगा तो आपको सबसे पहले विंडोज 11 की आवाज सुनाई देती है, अब आपको आगे की प्रोसेस करनी होगी आपसे लैग्‍वेंज, देश, Account के बारे में पूछा जाएगा जैसे ही आप ये सब कर देते हैं तो आपका सिस्‍टम पूरी तरह से तैयार हो जाता है

वर्चुअल बॉक्‍स के जरिए आप अपने सिस्‍टम के अंदर नये विंडोज के वर्जन को Install कर सकते हैं इसमें आपको अपनी पुरानी विंडो को डिलीट करने की जरूरत नहीं होती है, आप अपने सिस्‍टम में दोनों को एक साथ इस्‍तेमाल कर सकते हैं, अब जब आप दोनों को एक साथ इस्‍तेमाल करते हैं तो मैमोरी की खपत भी ज्‍यादा हो जाती है तो जब तक आप दोनों को इस्‍तेमाल करना चाहते हैं तब तक आप कर सकते हैं उसके बाद आप एक को हटा भी सकते हैं

अगर आप किसी एक को अनइंस्‍ट्राल करना चाहते है तो आपको Normally करना होता है जैसे आप हर ऐप को Uninstall करते हैं वैसे ही करना होता है, अगर आप विंडोज 11 को अपने सिस्‍टम पर इस्‍तेमाल करना चाहते हैं तो आप रख सकते हैं और अच्‍छा न लगे तो आप हटा भी सकते हैं

 Benefits of Windows 11

1 इस वर्जन को चलाने में आपको इस वजह से ज्‍यादा कठिनाई नहीं आएगी क्‍योंकि इसमें ज्‍यादातर फीचर्स पुराने वर्जन जैसे ही है 

2 विंडोज 11 में स्‍पीड बहुत ज्‍यादा होती है और इसका नोटिफिकेशन सिस्‍टम  पहले वाले वर्जन से ज्‍यादा अच्‍छा होता है 

3 विंडोज 11 के स्‍टार्ट मैन्‍यू को रिवाइज्‍ड कर दिया गया है जो देखने में काफी अच्‍छा लगता है