PGDCA Course क्‍या होता है

आज का युग कंप्यूटर का युग है, आज के समय में आपको कंप्यूटर का ज्ञान होना बहुत जरूरी है अगर आपको कंप्यूटर का ज्ञान होता है तो आप अपने घर पर बैठे-बैठे ही पैसे कमा सकते हैं, कंप्यूटर के ज्ञान के लिए सबसे पहले तो किसी भी व्यक्ति को कंप्यूटर के फील्ड में रूचि होनी चाहिए क्योंकि बिना रुचि के अगर कोई काम किया जाता है तो वो काम उतना सक्‍सेस नहीं होता है, अगर आपको कंप्यूटर में रूचि है तो आपके लिए कंप्यूटर के बहुत से कोर्स होते हैं जिनको करके आप अपना करियर बना सकते हैं, उनमें से एक कोर्स होता है जिसका नाम पीजीडीसीए होता है

PGDCA क्‍या होता है

पीजीडीसीए का पूरा नाम पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन है, ये कंप्यूटर का डिप्लोमा होता है और ये कोर्स आमतौर पर ग्रेजुएशन वाले विद्यार्थियों के लिए होता है, अगर आप लोग ग्रेजुएशन कर चुके हैं और कंप्यूटर के फील्ड में अपने स्किल को डेवलप करना चाहते हैं तो आपके लिए पीजीडीसीए कोर्स सबसे अच्छा हो सकता है, इस कोर्स का करने के लिए इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता है कि आपने 12वीं कौन सी स्ट्रीम से की है

आप में बहुत से लोगों को ADCA और PGDCA में बहुत ज्‍यादा कंर्फोजन होता है तो मैं आपको सबसे पहले आपके डाउट को क्लियर कर देता हूं देखिए एडीसीए का पूरा नाम एडवांस डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन होता है और पीजीडीसीए के बारे में मैं आपको पहले ही बता चुका हूं, ये दोनों की कोर्स 1 साल के होते हैं

PGDCA कोर्स करने के बाद कहां-कहां पर जॉब लगती है

अगर आप प्राइवेट सेक्टर में जॉब करना चाहते हैं तो वहां पर एडीसीए कोर्स की डिमांड ज्यादा होती है वहीं दूसरी तरफ पीजीडीसीए की डिमांड प्राइवेट सेक्टर में कम होती है जैसे अगर दो व्यक्ति है एक ने एडीसीए का कोर्स किया हुआ है और दूसरे ने पीजीडीसीए का कोर्स किया हुआ है तो किसी भी प्राइवेट कंपनी में एडीसीए वाले को ज्यादा प्रेफर किया जाता है 

जब आप एडीसीए का कोर्स करते हैं तो वहां आपको ग्रेजुएट होने की जरूरत नहीं होती है लेकिन अगर आपको पीजीडीसीए का कोर्स करना है तो आपको ग्रेजुएट होना जरूरी होता है, अगर आप एडीसीए कोर्स करना चाहते हैं तो आप इस कोर्स को दसवीं या बारहवीं के बाद भी कर सकते हैं, किसी भी कंपनी में एडीसीए वाले को इस वजह से वरीयता दी जाती है क्योंकि उसने एडीसीए का कोर्स 10वीं या 12वीं के बाद ही कर लिया होता है इसलिए उसकी आयु भी बहुत कम होती है और वो कम पैसे में काम करने को तैयार हो जाते हैं

वहीं अगर आप सरकारी विभागों में देखेंगे तो एडीसीए की डिमांड कम होती है और पीजीडीसीए की डिमांड ज्यादा होती है क्योंकि आपने बहुत सी सरकारी नौकरियों में देखा होगा कि उनमें आपसे डिप्लोमा मांगा होता है तो डिप्‍लोमा आपका पीजीडीसीए कोर्स का होता है अगर आपने पीजीडीसीए कोर्स कर रखा है तो आप उस फॉर्म को अप्लाई कर सकते हैं

अब ये तो आप जान चुके हैं कि पीजीडीसीए का कोर्स ग्रेजुएशन वाले छात्रों के लिए होता है, अगर आपका ग्रेजुएशन पूरा हो चुका है और आप कंप्यूटर का कोई कोर्स करना चाहते हैं तो आप पीजीडीसीए का कोर्स कर सकते हैं, पीजीडीसीए का कोर्स पूरे एक साल का होता है अगर आप पीजीडीसीए का कोर्स कर लेते हैं तो आगे जाकर आप अपने कैरियर को अच्छा बना सकते हैं

पीजीडीसीए कोर्स करने के लिए यह जरूरी नहीं होता है कि आप साइंस से हो, आर्ट से हो, या फिर कॉमर्स से हो, आप चाहे किसी भी स्ट्रीम से हो आप पीजीडीसीए का कोर्स कर सकते हैं, पीजीडीसीए का कोर्स करने के लिए आपको एक साल का समय देना होता है क्योंकि ये कोर्स एक साल का होता है इसमें आपको कंप्यूटर के बारे में पढ़ाया जाता है

अब मैं आपको बताता हूं कि जब आप पीजीडीसीए का कोर्स करते हैं तो आपको उसमें क्‍या क्‍या पढ़ना होता है

1 इसमें आपको प्रोग्रामिंग लैग्‍वेज को पढना होता है जैसे C, C++, Java इत्‍यादि

2 वेब डिजाइनिंग 

3 एम एस ऑफिस ( एम एस ऑफिस के अंदर आपको एम एस वर्ड, एम एस एक्सेल, एम एस पॉवरपॉइंट, आउटलुक पढ़ाया जाता है) 

4 टैली

5 ऑपरेटिंग सिस्‍टम 

6 डाटा प्रोसेसिंग 

7 ओरेकल वीवी

8 सिस्टम एनालिसिस

अगर आप पीजीडीसीए का कोर्स करते हैं तो आप आईटी सेक्टर में जॉब कर सकते हैं, आप रिसर्च में जा सकते हैं, आप एजुकेशन के फील्ड में जा सकते हैं, आप Insurance के फील्ड में भी जॉब कर सकते हैं, बैंकिंग सेक्टर में भी जॉब कर सकते हैं, या फिर आप अपना खुद का काम खोल सकते हैं जैसे आप अपना कोचिंग सेंटर खोल सकते हैं और बच्चों को पढा सकते हैं

Benefits of PGDCA Course

  • अगर आप पीजीडीसीए का कोर्स कर लेते हैं तो आपको MBA( Master of Business Administration ) या MCA( Master of Computer Application ) के दूसरे सिमेस्‍टम में डायरेक्ट एडमिशन मिल जाता है जैसे अगर आपने पीजीडीसीए का कोर्स कर लिया है तो आपको MBA के दूसरे सिमेस्‍टम में आसानी से एडमिशन मिल जाता है
  • अगर आप पीजीडीसीए का कोर्स कर लेते हैं तो आपके कंप्यूटर के बहुत सारे कोर्स पूरे हो जाते हैं क्योंकि पीजीडीसीए का मतलब   पोस्‍ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन होता है, अगर आप ये कोर्स कर लेते हैं तो आपको छोटे-छोटे कोर्स करने की जरूरत नहीं होती है इसे करने के बाद आपको कंप्यूटर की अच्‍छी जानकारी हो जाती है 
  • अगर आपने पीजीडीसीए का कोर्स कर रखा है तो आप किसी भी स्कूल या इंस्टीट्यूट में पढा सकते हैं क्योंकि आजकल सभी स्कूलों में ग्रेजुएट डिप्‍लोमा करने वालों को बहुत डिमांड होती है 
  • अगर आपने पीजीडीसीए का कोर्स कर रखा है और आप कहीं जॉब नहीं करना चाहते हैं तो आप अपनी खुद की कंप्यूटर क्लासेज खोल सकते हैं या फिर आप अपना साइबर कैफे भी खोल सकते हैं जिससे आप अपने घर बैठकर ही पैसे कमा सकते हैं
  •  अगर आप पीजीडीसीए का कोर्स कर लेते हैं तो जो सर्टिफिकेट आपको इस कोर्स को करने के बाद दिया जाता है वो हर जगह पर मान्य होता है इससे आप सरकारी और प्राइवेट संस्थाओं में एप्लाई कर सकते हैं और एक अच्छी जॉब पा सकते हैं
  • अगर आप किसी कंपनी में इंटरव्यू देने जाते हैं  तो आपसे वहां पर Resume मांगा जाता है और अगर आपके पास पीजीडीसीए का सर्टिफिकेट होता है तो आपको दूसरों से पहले जॉब दे दी जाती है 

PGDCA का कोर्स करने के लिए क्‍या-क्‍या जरूरी होता है

इस कोर्स को करने से पहले आपको कंप्यूटर का सामान्‍य ज्ञान होना जरूरी होता है क्योंकि अगर आपको कंप्यूटर की थोड़ी बहुत जानकारी होती है तो आप चीजों को आसानी से समझ पाते हैं, मैं तो बस इतना कहूंगा कि अगर आपकी कंप्‍यूटर में रूचि है तो आप इस कोर्स को करके अपना करियर बना सकते हैं और एक अच्छी जॉब पा सकते हैं

पीजीडीसीए में आपको कोर्स का पूरा पैकेज मिलता है अगर आप बाकी कोर्स को देखेंगे जैसे अगर आप टैली करना चाहते हैं तो आप केवल टैली ही कर पाते हैं और आपके पास टैली का ही सर्टिफिकेट होता है पर इसमें ऐसा नहीं है इसमें आपको बहुत सारे कोर्स कराये जाते हैं जैसे एम एस ऑफिस पूरा कराया जाता है, टैली कराई जाती है, ऑपरेटिंग सिस्टम के बारे में बताया जाता है, आपको कंप्यूटर लैंग्वेज के बारे में बताया जाता है इत्यादि ऐसे बहुत से कोर्स कराए जाते हैं और इसका जो सर्टिफिकेट आपको दिया जाता है उसको आप कहीं भी इस्तेमाल कर सकते हैं

आज ऐसे बहुत से सरकारी या प्राइवेट यूनिवर्सिटी है जो पीजीडीसीए का कोर्स कराती है आप उनमें से किसी में भी एडमिशन लेकर ये कोर्स कर सकते हैं और अपना करियर बना सकते हैं, इस कोर्स को करने के बाद आपको एक सर्टिफिकेट दिया जाता है जिससे आपको आसानी से कहीं भी जॉब मिल जाती है

अगर आपने पीजीडीसीए का कोर्स कर रखा है तो शुरुआत में आपको तीन से चार लाख रुपये साल तक मिल सकते हैं और ये समय के साथ साथ बढ़ते जाते हैं जैसे-जैसे आपको अपने फील्ड के बारे में जानकारी होती जाती है आपकी सैलरी भी बढ़ती जाती है तो मैं तो आपसे बस इतना कहूंगा कि आप पीजीडीसीए का कोर्स करके अपना करियर बना सकते हैं 

आशा है मेरे द्वारा PGDCA की जो जानकारी आपको दी गई हैं वो आपको जरूर पसंद आई होगी अगर हां तो कमेंट करके जरूर बताएं हमें आपके कमेंट का इंतजार रहेगा